GNCTD बिल को लेकर सिसोदिया का मोदी सरकार पर हमला, कहा- केजरीवाल से डर गए हैं PM मोदी

दिल्ली के उपराज्यपाल की शक्तियां बढ़ाने वाला बिल राज्यसभा से भी पास होने के बाद दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने आज केंद्र की मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला है।

मोदी के मुकाबले केजरीवाल बेहतर नेता- सिसोदिया
मनीष सिसोदिया ने आज 25 मार्च को कहा कि दिल्ली को लेकर केंद्र की मोदी सरकार ने कल जो बिल पास किया है, वो ये दिखाता है कि मोदी सरकार अरविंद केजरीवाल और उनके काम को लेकर किस तरह से असुरक्षित महसूस कर रही है। सिसोदिया ने कहा कि आज पूरे देश में चर्चा है कि पीएम मोदी का विकल्प कौन है, क्योंकि मोदी जी फेल हो गए हैं, अब बात होने लगी है कि मोदी जी के मुकाबले अरविंद केजरीवाल बेहतर नेता हो सकते हैं, क्योंकि ये नेता काम करके दिखाता है।

नकारात्मक राजनीति कर रहे हैं मोदी- सिसोदिया
मनीष सिसोदिया ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रधानमंत्री का पद पिता के समान होता है, लेकिन मोदी जी नकारात्मक राजनीति कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मोदी जी लकीर को मिटाया नहीं जाता, लकीर को छोटा करने के लिए उसके सामने बड़ी लकीर खींची जाती है, आप लकीर को मिटाने की कोशिश कर रहे है, ये आपको शोभा नहीं देता है। सिसोदिया ने कहा कि आज पूरे देश में मोदी सरकार कहीं कोई काम नहीं कर पा रही है, ये बस एक काम कर रहे हैं कि अरविंद केजरीवाल के अच्छे कामों में अड़ंगा डाल कर रोक दो, केजरीवाल फाइटर हैं, वो इनकी अड़चनों से रुकने वाले नहीं हैं।

सभी राज्य के लोग चाहते हैं केजरीवाल जैसा CM
मनीष सिसोदिया ने कहा कि आप किसी भी राज्य में चले जाओ तो वहां लोग कहते हैं कि काश हमारे यहां भी कोई केजरीवाल जी जैसा मुख्यमंत्री आ जाए, इसी बात से घबरा कर भाजपा ये बिल लाई है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने पिछले दरवाजे से दिल्ली पर राज करने के लिए लाए गए राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली सरकार (संशोधन) विधेयक 2021 यानि जीएनसीटीडी बिल, 2021 के माध्यम से दिल्ली की जनता द्वारा चुनी गई सरकार के अधिकारों को छीन कर एलजी के हाथ में सौंप दिया है, दिल्ली की जनता इस तानाशाही के खिलाफ लड़ेगी।

काम न रुकेगा, न धीमा होगा- केजरीवाल
ध्यान रहे कि राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली सरकार (संशोधन) विधेयक 2021 यानि Delhi National Capital Territory Government (Amendment) Bill 2021 कल 24 मार्च को राज्यसभा में पास होने के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि यह लोकतंत्र के लिए दुखद दिन है। केजरीवाल ने कहा था कि वह लोगों को सत्ता दोबारा सौंपने के लिए संघर्ष करते रहेंगे, जो भी अड़चने आएंगी हम अच्छा काम करते रहेंगे, काम न रुकेगा, न धीमा होगा। संसद ने दिल्ली राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र सरकार (संशोधन) विधेयक 2021 पारित कर दिया जिससे उपराज्यपाल को और अधिक शक्तियां प्राप्त हो गई हैं। दिल्ली राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र सरकार (संशोधन) विधेयक 2021 को लोकसभा में 22 मार्च को पारित कराया गया था।

Load More Related Articles
Load More By RN Prasad
Load More In दिल्ली

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा- CBSE रिजल्ट से असंतुष्ट छात्रों को अगस्त में मिलेगा परीक्षा देने का मौका

केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने आज सीबीएसई की 12वीं बोर्ड परीक्षा परिणाम से …