कर्नाटक के 30वें मुख्यमंत्री बने बसवराज बोम्मई, राज्यपाल थावरचंद गहलोत ने दिलाई शपथ

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता बसवराज बोम्मई को कर्नाटक राजभवन के ग्लास हाउस में आयोजित एक समारोह में कर्नाटक के राज्यपाल थावरचंद गहलोत ने कर्नाटक के 30वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ दिलाई।

बसवराज बोम्मई बने कर्नाटक के नए मुख्यमंत्री
बसवराज बोम्मई ने आज 28 जुलाई को कर्नाटक के नए मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ले ली। कर्नाटक के राज्यपाल थावरचंद गहलोत ने राजभवन में बसवराज बोम्मई को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। बसवराज बोम्मई ने इस पर कर्नाटक के कद्दावर नेता बीएस येदियुरप्पा का स्थान लिया है। शपथ ग्रहण समारोह के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा को पार्टी में उनके योगदान के लिए धन्यवाद दिया, साथ ही नए मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई को भी बधाई दी। ध्यान रहे कि कर्नाटक में लंबी खींचतान के बाद कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने 26 जुलाई को अपने पद से इस्तीफा दे दिया था।

पीएम मोदी ने सीएम बसवराज बोम्मई को दी बधाई
कर्नाटक के मुख्यमंत्री के रूप में कार्यभार संभालने पर बसवराज बोम्मई को बधाई देते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘बोम्मई जी को कर्नाटक के सीएम के रूप में शपथ लेने के लिए बधाई, वह अपने साथ समृद्ध विधायी और प्रशासनिक अनुभव लेकर आए हैं, मुझे विश्वास है कि वह राज्य में हमारी सरकार द्वारा किए गए काम को आगे बढ़ाएंगे, फलदायी कार्यकाल के लिए शुभकामनाएं।’

पीएम मोदी ने येदियुरप्पा के योगदान को सराहा
प्रधानमंत्री मोदी ने ट्विट करके कहा, ‘हमारी पार्टी और कर्नाटक के विकास के लिए येदियुरप्पा जी के महान योगदान के लिए कोई भी शब्द कभी न्याय नहीं करेगा, दशकों तक उन्होंने कड़ी मेहनत की, कर्नाटक के सभी हिस्सों में यात्रा की और लोगों के साथ तालमेल बिठाया, उन्हें समाज के प्रति उनकी प्रतिबद्धता के लिए सराहा जाता है।’

अमित शाह ने बसवराज बोम्मई को दी बधाई
वहीं केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा, ‘कर्नाटक के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने पर बोम्मई जी को बधाई और शुभकामनाएं, मुझे यकीन है कि पीएम नरेंद्र मोदी जी के मार्गदर्शन में वह गरीबों और किसानों की सेवा करने के भाजपा के संकल्प को और बढ़ावा देंगे, येदियुरप्पा जी ने पूरी निष्ठा के साथ पार्टी और कर्नाटक के लोगों की सेवा की है, कर्नाटक में जमीनी स्तर पर भाजपा को मजबूत करने के लिए उनका योगदान और कड़ी मेहनत वास्तव में प्रेरणादायक है, मुझे यकीन है कि वह पार्टी और सरकार का मार्गदर्शन करते रहेंगे।’

2008 में भाजपा में शामिल हुए थे बसवराज बोम्मई
ध्यान रहे कि 26 जुलाई को कर्नाटक के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने वाले बीएस येदियुरप्पा ने 27 जुलाई को भाजपा विधायक दल की बैठक में बसवराज बोम्मई के नाम का प्रस्ताव मुख्यमंत्री के लिए रखा था, इसे सर्वसम्मति से पास कर दिया गया था। 28 जनवरी 1960 को जन्मे बसवराज बोम्मई मुख्यमंत्री की कुर्सी संभालने से पहले कर्नाटक के गृह, कानून, संसदीय मामलों के मंत्री भी थे। बसवराज बोम्मई के पिता एसआर बोम्मई भी कर्नाटक के मुख्यमंत्री रह चुके हैं। बसवराज बोम्मई 2008 में जेडीएस से भाजपा में शामिल हुए थे। बसवराज बोम्मई लिंगायत समुदाय से हैं और येदियुरप्पा के करीबी माने जाते हैं। बसवराज बोम्मई मैकेनिकल इंजीनियरिंग से ग्रेजुएट हैं।

Load More Related Articles
Load More By RN Prasad
Load More In देश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

75 साल-75 गांव-75 घंटे, 15 अगस्त के लिए PM मोदी ने BJP सांसदों को दिया नया टास्क

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 15 अगस्त के लिए पार्टी सांसदों को एक नया टास्क दिया है। प्रधा…