विशाखापट्टनम में गैस लीक का बड़ा हादसा, हर तरफ अफरा-तफरी मची, प्रधानमंत्री मोदी ने बुलाई आपात बैठक !

वैश्विक महामारी कोविड-19 के खिलाफ पूरी दुनिया के साथ भारत एकजुट होकर लड़ाई लड़ रहा है, इस बीच आज आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम में एक प्लास्टिक कंपनी में केमिकल गैस लीक का बड़ा हादसा हुआ है, जिसके चलते हर तरफ अफरा-तफरी मच गई है। इस गैस लीक हादसे के लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक आपात बैठक बुलाई।

गैस लीक हादसे को लेकर प्रधानमंत्री मोदी ने आपात बैठक बुलाई

वैश्विक महामारी कोविड-19 के खिलाफ पूरी दुनिया के साथ भारत एकजुट होकर लड़ाई लड़ रहा है, इस बीच आज आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम के आरआर वेंकटपुरम गांव में  एलजी पॉलिमर कंपनी में सुबह 3 बजे केमिकल गैस लीक का बड़ा हादसा हुआ है, जिसके चलते हर तरफ अफरा-तफरी मच गई है। इस गैस लीक हादसे को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चिंता व्यक्त की तथा उन्होंने आज सुबह 11 बजे इस घटना को लेकर राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन की बैठक बुलाई। प्रधानमंत्री मोदी ने इस घटना को लेकर आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री जगन रेड्डी से फोन पर बात की तथा उन्हें हर संभव मदद का भरोसा दिलाया है।

गैस लीक हादसे पर केंद्रीय गृह मंत्रालय तथा एनडीआरएफ की नजर- मोदी

प्रधानमंत्री ने ट्विट करते बताया कि विशाखापट्टनम गैस लीक हादसे पर केंद्रीय गृह मंत्रालय तथा एनडीआरएफ नजर रख रही हैं। विशाखापट्टनम गैस लीक हादसे के बाद विशाखापट्टनम के जिला कलेक्टर वी विनय चंद घटनास्थल पर पहुंचे तथा उन्होंने कहा कि 2 घंटे के अंदर स्थिति काबू में लाई जाएगी, बीमार लोगों को हॉस्पिटल भेजा जा रहा है, जिन्हें सांस लेने में तकलीफ है उन्हें ऑक्सीजन सपोर्ट दिया जा रहा है।

अब तक 11 लोगों की मरने की खबर

विशाखापट्टनम के इस केमिकल गैस लीक होने से अब तक 11 लोगों की मरने की खबर है तथा  हादसे में अब तक पांच हजार से भी अधिक लोग बीमार हो चुके हैं। अचानक गैस लीक होने से हर तरफ अफरा-तफरी मच गई, लोगों को सांस लेने में तकलीफ के चलते लोग सड़कों पर जहां-तहां बेहोश पड़े हुए हैं, बीमार लोगों को उठा कर हॉस्पिटल ले जाया जा रहा है। विशाखापट्टनम के इस एलजी पॉलिमर कंपनी के करीब 3 किलोमीटर के दायरे तक लोगों में दहशत फैली हुई है, बीमार लोगों में बड़ी संख्या में बच्चे शामिल हैं।

अभी तक घटना का कारण पता नहीं चल सका

इस गैस लीक हादसे के कारण बहुत सारे लोग सड़कों पर ही बेहोश पड़े हुए हैं, जबकि कई लोग बेहोश होकर नाले में भी गिर गए हैं। इस घटना के सामने आते ही स्थानीय पुलिस घटनास्थल पर पहुंची तथा लोगों को निकालना शुरू किया, अभी तक घटना का कारण पता नहीं चल सका है। घटना स्थल पर एनडीआरएफ तथा एसडीआरएफ टीमें बीमार लोगों को हॉस्पिटल पहुंचा रही है। स्थानीय पुलिस लोगों से घर से बाहर आने तथा सुरक्षित जगहों पर जाने की अपील कर रही है।

Load More Related Articles
Load More By RN Prasad
Load More In दिल्ली

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा- CBSE रिजल्ट से असंतुष्ट छात्रों को अगस्त में मिलेगा परीक्षा देने का मौका

केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने आज सीबीएसई की 12वीं बोर्ड परीक्षा परिणाम से …