केजरीवाल सरकार का बड़ा ऐलान, दिल्ली के हॉटस्पॉट इलाकों में रैपिड स्क्रीनिंग कैंपेन चलाया जाएगा !

वैश्विक महामारी कोविड-19 की रोकथाम के लिए दुनिया के साथ एकजुट होकर भारत कोरोना के खिलाफ लड़ रहा है, इस बीच कोरोना के खिलाफ दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने एक बड़ा ऐलान किया है। दिल्ली के कोरोना हॉटस्पॉट इलाकों में  रैपिड स्क्रीनिंग कैंपेन चलाया जाएगा।

दिल्ली के सभी हॉटस्पॉट इलाके में रैपिड स्क्रीनिंग कैंपेन

वैश्विक महामारी कोविड-19 की रोकथाम के लिए दुनिया के साथ एकजुट होकर भारत कोरोना के खिलाफ लड़ रहा है, इस बीच कोरोना के खिलाफ दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने दिल्ली के कोरोना हॉटस्पॉट इलाकों में रैपिड स्क्रीनिंग कैंपेन चलाने का ऐलान किया है। दिल्ली सरकार के आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने 30 अप्रैल को एक आदेश जारी करते हुए बताया कि दिल्ली के जिन इलाकों को हॉटस्पॉट इलाका बनाया गया है, वहां पर अगले 14 दिनों में सभी लोगों की स्क्रीनिंग कराई जाएगी।

हॉटस्पॉट इलाके घोषित होने के पहले 3 दिन के भीतर पहली स्क्रीनिंग

दिल्ली सरकार के आदेश में कहा है कि दिल्ली में हॉटस्पॉट इलाके घोषित होने के 14 दिनों के भीतर ऐसे इलाकों में रहने वाले लोगों की कई बार स्क्रीनिंग कराई जाएगी, हॉटस्पॉट इलाके घोषित होने के पहले 3 दिन के भीतर ही पहली स्क्रीनिंग का काम पूरा हो जाएगा, वहीं नोटिफिकेशन जारी होने के 14 दिन के भीतर हॉटस्पॉट इलाकों में सभी लोगों की 3 बार स्क्रीनिंग कराई जाएगी।

आरोग्य सेतु ऐप इस्तेमाल के लिए लोगों को प्रेरित किया जाएगा

दिल्ली सरकार के आदेश में यह भी कहा गया है कि हॉटस्पॉट इलाके में रहने वाले सभी लोगों को आरोग्य सेतु ऐप के बारे में भी बताया जाएगा तथा लोगों को इसके इस्तेमाल के लिए भी प्रेरित किया जाएगा। हॉटस्पॉट इलाके में रहने वाले सभी सीनियर नागरिकों का एक अलग डेटाबेस बनाया जाएगा तथा ऐसे लोगों के स्वास्थ्य की नियमित रूप से निगरानी सुनिश्चित कराई जाएगी। हॉटस्पॉट इलाकों में केंद्रीय आयुष मंत्रालय की गाइडलाइंस का भी पूरा प्रचार कराया जाएगा, जिससे कि प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए जरूरी उपायों की जानकारी आम लोगों तक पहुंचाया जा सके।

हॉटस्पॉट इलाकों में किसी भी प्रकार की मूवमेंट पर रोक  

दिल्ली सरकार ने कहा है कि अगर किसी हॉटस्पॉट इलाके की जनसंख्या 10 हजार से अधिक है, तो ऐसे इलाके में एक माइक्रो लेवल प्लान बना कर सरकार के स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसिजर तथा सारे सेफ्टी प्रोटोकॉल फॉलो कराए जाएंगे, इन सभी के साथ केंद्रीय गृह मंत्रालय के गाइडलाइंस के अनुरुप हॉटस्पॉट इलाकों में किसी भी प्रकार की मूवमेंट को रोकने के इंतजाम किए जाएंगे। इन इलाकों में किसी भी व्यक्ति को बाहर जाने या बाहर से अंदर आने की इजाजत नहीं होगी, दिल्ली सरकार खुद ऐसे इलाकों में आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति की व्यवस्था सुनिश्चित कराएगी।

दिल्ली में सबसे ज्यादा कोरोना संक्रमित 50 वर्ष से कम उम्र के

ध्यान रहे कि दिल्ली में कोरोना संक्रमित मरीजों के मामलों में सबसे ज्यादा संख्या 50 वर्ष से कम उम्र के मरीजों की है। दिल्ली सरकार के आंकड़ों के मुताबिक, दिल्ली में कुल 3515 कोरोना संक्रमितों की संख्या में 2352 कोरोना संक्रमित 50 वर्ष से कम उम्र के हैं, वहीं 50 से 59 वर्ष की उम्र के 551 कोरोना संक्रमित हैं, जबकि 60 या इससे ज्यादा उम्र के 612 कोरोना संक्रमित मरीज हैं।

दिल्ली में 100 कोरोना हॉटस्पॉट इलाके घोषित  

दिल्ली में अब तक कुल 3515 कोरोना पॉजिटिव केस हो गए हैं, कोरोना बीमारी से ठीक होने वालों की संख्या यहां 1092 हो गई है, जबकि इससे मरने वालों की संख्या 59 हो चुकी है। दिल्ली के सभी 11 जिले कोरोना हॉटस्पॉट इलाके घोषित किए जा चुके हैं। दिल्ली में अब तक 100 कोरोना हॉटस्पॉट इलाके घोषित हो चुके हैं।

Load More Related Articles
Load More By RN Prasad
Load More In दिल्ली

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा- CBSE रिजल्ट से असंतुष्ट छात्रों को अगस्त में मिलेगा परीक्षा देने का मौका

केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने आज सीबीएसई की 12वीं बोर्ड परीक्षा परिणाम से …