जस्टिस यूयू ललित बने देश के 49वें मुख्य न्यायाधीश, राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने दिलाई शपथ

जस्टिस यूयू ललित (उदय उमेश ललित) आज देश के 49वें मुख्य न्यायाधीश बन गए हैं। जस्टिस यूयू ललित ने इस पद पर जस्टिस एनवी रमना की जगह ली है, जोकि कल 26 अगस्त 2022 को रिटायर हुए हैं। जस्टिस यूयू ललित क्रिमिनल लॉ के स्पेशलिस्ट माने जाते हैं।

द्रौपदी मुर्मू ने यूयू ललित को CJI की शपथ दिलाई
जस्टिस यूयू ललित ने आज 27 अगस्त 2022 को भारत के मुख्य न्यायाधीश (Chief stice of India) के रूप में शपथ ली। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू जस्टिस यूयू ललित को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। शपथ ग्रहण समारोह में उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के अलावा कई केंद्रीय मंत्री और सुप्रीम कोर्ट के जज मौजूद रहे। सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस के पद पर आसीन होने वाले 49वें व्यक्ति जस्टिस यूयू ललित का कार्यकाल 8 नवंबर 2022 तक होगा।

वकील से सीधे सुप्रीम कोर्ट के जज बने यूयू ललित
सौम्य स्वभाव के लिए पहचाने जाने वाले जस्टिस यूयू ललित सुप्रीम कोर्ट के ऐसे दूसरे चीफ जस्टिस बने हैं जो सुप्रीम कोर्ट का जज बनने से पहले किसी हाई कोर्ट के जज नहीं थे, बल्कि सीधे वकील से सुप्रीम कोर्ट के जज के पद पर पहुंचे, इनसे पहले 1971 में देश के 13वें मुख्य न्यायाधीश एस एम सीकरी ने यह उपलब्धि हासिल की थी।

Load More Related Articles
Load More By RN Prasad
Load More In देश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

PM मोदी बिहार से लोकसभा चुनाव अभियान का आगाज करेंगे, पश्चिम चंपारण के बेतिया में 13 जनवरी को पहली रैली करेंगे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 2024 लोकसभा चुनाव अभियान की शुरुआत बिहार से कर सकते हैं। न्यूज ए…