देश में कोरोना संक्रमितों को लेकर एक बड़ी लापरवाही का खुलासा, 15 कोरोना संक्रमितों को निगेटिव बताकर भेज दिया गया घर…जानिए पूरा मामला !

देश में कोरोना संक्रमितों को लेकर एक बड़ी लापरवाही का खुलासा हुआ है, हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर में 15 कोरोना संक्रमित लोगों की रिपोर्ट निगेटिव बताकर उन्हें घर भेज दिया गया था।

हमीरपुर में 15 कोरोना संक्रमित को निगेटिव बताकर घर भेज दिया गया था

देश में कोरोना संक्रमितों को लेकर एक बड़ी लापरवाही का खुलासा हुआ है, हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर में 15 कोरोना संक्रमित लोगों की रिपोर्ट निगेटिव बताकर उन्हें घर भेज दिया गया था। 27 मई को इन 15 कोरोना संक्रमित लोगों की शिमला से कोविड-19 पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद राज्य प्रशासन के हाथ पांव फूल गए, अब सभी कोरोना संक्रमितों को घर से कोविड-19 केयर सेंटर शिफ्ट किया गया है।

भोरंज के एसडीएम ने 15 कोरोना पॉजिटिव लोगों को घर भेजने के आदेश जारी किए थे

ध्यान रहे कि हमीरपुर जिले के भोरंज तहसील के एसडीएम ने इस सभी 15 कोरोना पॉजिटिव लोगों को घर भेजने के आदेश जारी किए थे, हमीरपुर जिला प्रशासन ने इस मामले को संज्ञान में आते ही जांच कराने का आदेश जारी किया है तथा स्वास्थ्य विभाग ने भी इस मामले की जांच शुरू कर दी है। हमीरपुर के सीएमओ डॉ. अर्चन सोनी ने कहा कि इस मामले की जांच-पड़ताल की जा रही है।

ये सभी 15 कोरोना संक्रमित मुंबई से हमीरपुर लौटे थे

इस सारे मामले की हिमाचल प्रदेश सरकार ने रिपोर्ट तलब की है, प्रशासनिक अफसरों समेत हॉस्पिटल प्रशासन के भी कई अफसरों पर गाज गिर सकती है। ये सभी 15 कोरोना संक्रमित मुंबई से हमीरपुर लौटे थे, जिन्हें जवाहर नवोदय विद्यालय डुंगरी, भोरंज में क्वारंटइन किया गया था, स्वास्थ्य विभाग ने इनके सैंपल लेकर जांच के लिए आईएचबीटी पालमपुर भेजे थे, जहां से इन लोगों की जांच रिपोर्ट निगेटिव आया था, तब इस इन सभी को घर भेज दिया गया था।

हमीरपुर के उपायुक्त हरिकेश मीणा ने स्वास्थ्य विभाग से इस मामले में रिपोर्ट मांगी

इन 15 कोरोना संक्रमितों के घर पहुंचने के चलते अब मुश्किलें बढ़ सकती हैं, घर पहुंचने पर परिवार के सदस्य भी इनके प्राथमिक संपर्क में आए हैं, हमीरपुर जिला प्रशासन अब कंटनेमेंट जोन घोषित कर पाबंदी लगा सकता है, कर्फ्यू में ढील भी हो रद्द हो सकती है। ये सभी 15  कोरोना संक्रमित लोग हमीरपुर, भोरंज, नादौन तथा बड़सर उपमंडल के हैं। हमीरपुर के उपायुक्त हरिकेश मीणा ने स्वास्थ्य विभाग से इस मामले में रिपोर्ट मांगी है।

Load More Related Articles
Load More By RN Prasad
Load More In देश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा- CBSE रिजल्ट से असंतुष्ट छात्रों को अगस्त में मिलेगा परीक्षा देने का मौका

केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने आज सीबीएसई की 12वीं बोर्ड परीक्षा परिणाम से …