अमित शाह ने बीदर में 103 फीट ऊंचा तिरंगा फहराया, कहा- 2.5 फीट ऊंचा झंडा लगाने पर यहां निजाम ने किया था कत्लेआम, ये दूर से नजर आएगा

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह आज एक दिन के कर्नाटक दौरे पर हैं, जहां उन्होंने बीदर में 103 फीट ऊंचा तिरंगा फहराया है। इस मौके पर उन्होंने कहा कि इस गरोटा गांव में एक निजाम ने सैंकड़ों लोगों को इसलिए मार डाला था, क्योंकि उन्होंने 2.5 फीट ऊंचा तिरंगा फहरा दिया था। अमित शाह ने कहा कि आज मैं बहुत गर्व से कह सकता हूं कि इसी जमीन पर हमने 103 फीट ऊंचा तिरंगा फहराया है जो किसी से छिपेगा नहीं। शाह ने गरोटा शहीद मेमोरियल का उद्घाटन भी किया। उन्होंने कहा कि इसी जमीन पर उन अमर शहीदों के नाम स्मारक भी बनाया गया है, यहां बना सरदार पटेल का 20 फीट ऊंचा स्टैच्यू इस बात का प्रतीक रहेगा कि हैदराबाद के निजाम को हटाने में हमारे पहले गृह मंत्री ने कितनी अहम भूमिका निभाई थी, तब जाकर यह इलाका यानी यह बीदर भारत का हिस्सा बन पाया।

धर्म के आधार पर आरक्षण गया था- शाह
अमित शाह ने कहा कि कर्नाटक में अल्पसंख्यकों को अब तक दिया जा रहा आरक्षण संविधान के मुताबिक नहीं था, संविधान में धर्म के आधार पर आरक्षण देने का प्रावधान है ही नहीं, कांग्रेस की सरकार ने अपनी ध्रुवीकरण की राजनीति के चलते अल्पसंख्यकों को आरक्षण दिया था, भाजपा ने इसे खत्म करके वोक्कालिगा और लिंगायत समुदायों को दिया है। उन्होंने कहा कि वोट बैंक के लालच में कांग्रेस ने देश की आजादी की लड़ाई और हैदराबाद मुक्ति के युद्ध के शहीदों को कभी सम्मान नहीं दिया, अगर सरदार पटेल यहां न आते तो हैदराबाद और बीदर को कभी आजादी नहीं मिलती। अमित शाह का दो दिन में ये दूसरा कर्नाटक दौरा है, इससे पहले उन्होंने बेंगलुरु में ड्रग ट्रैफिकिंग एंड नेशनल सिक्योरिटी की रीजनल कॉन्फ्रेंस को भी संबोधित किया था।

कांग्रेस को 5 से ज्यादा सीटें नहीं मिलीं
रायचूर रैली में अमित शाह ने कहा कि हाल ही में पूर्वोत्तर में चुनाव हुए, वहां किसी राज्य में कांग्रेस को 5 से ज्यादा सीटें नहीं मिलीं, जबकि एनडीए ने तीनों राज्यों में सफलता पाई। उन्होंने रकहा कि मैं रायचूर के लोगों से अपील करना चाहता हूं कि शहर में विकास के लिए भाजपा को वोट दें।

बीदर में विजय संकल्पर यात्रा की शुरुआत
अमित शाह ने पिछले शुक्रवार यानी 3 मार्च को कर्नाटक के बीदर में विजय संकल्पव यात्रा की शुरुआत की थी। शाह ने यहां एक चुनावी रैली को संबोधित किया था, जिसमें उन्होंने कहा कि डबल इंजन की सरकार से राज्यक का तेजी से विकास होगा। शाह ने कहा कि मुख्यकमंत्री बसवराज बोम्मसई ने कर्नाटक के विकास के लिए पांच हजार करोड रूपए का बजट आवंटित किया है।

मई में पूरा हो रहा विधानसभा का कार्यकाल
कर्नाटक विधानसभा का कार्यकाल मई 2023 में पूरा हो रहा है, उससे पहले वहां विधानसभा चुनाव होने हैं। चुनाव नजदीक होने की वजह से कर्नाटक में पीएम मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के दौरे बढ़ गए हैं। कर्नाटक में फिलहाल बसवराज बोम्म ई के नेतृत्व में भाजपा की ही सरकार है।

Load More Related Articles
Load More By RN Prasad
Load More In देश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

PM मोदी बिहार से लोकसभा चुनाव अभियान का आगाज करेंगे, पश्चिम चंपारण के बेतिया में 13 जनवरी को पहली रैली करेंगे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 2024 लोकसभा चुनाव अभियान की शुरुआत बिहार से कर सकते हैं। न्यूज ए…