राजनीति में आने की इच्छुक महिलाओं के लिए दिल्ली का मिरांडा हाउस कॉलेज शुरू करेगा ट्रेनिंग कोर्स

दिल्ली यूनिवर्सिटी का मिरांडा हाउस कॉलेज अब राज्य और राष्ट्रीय स्तर पर राजनीति में शामिल होने की इच्छुक युवा महिलाओं को प्रशिक्षित करने के लिए सर्टिफिकेट प्रोग्राम शुरू करने जा रहा है।

मिरांडा हाउस शुरू करेगा 3 महीने का ट्रेनिंग कोर्स
मिरांडा हाउस कॉलेज की प्रिंसिपल बिजयालक्ष्मी नंदा ने बताया कि मिरांडा हाउस कॉलेज अगले शैक्षणिक सत्र यानि अप्रैल, 2021 से राज्य और राष्ट्रीय स्तर पर राजनीति में शामिल होने की इच्छुक युवा छात्राओं को प्रशिक्षित करने के लिए 3 महीने का सर्टिफिकेट प्रोग्राम शुरू करेगा। बिजयालक्ष्मी नंदा ने कहा कि ऐसा कोर्स शुरू करने वाला मिरांडा हाउस कॉलेज पहला कॉलेज होगा। उन्होंने कहा कि इस कोर्स में ग्राम पंचायत से शहरी नगर निकायों तक सभी स्तरों पर युवा महिलाओं के प्रशिक्षण और क्षमता निर्माण पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा।

मिरांडा हाउस पाठ्यक्रम पर काम करेगा- बिजयालक्ष्मी
बिजयालक्ष्मी ने कहा कि मिरांडा हाउस पाठ्यक्रम पर काम करेगा, शी लीड्स एक सप्ताह तक चलने वाला वर्चुअल लीडरशिप ट्रेनिंग प्रोग्राम है जो राजनीति में आने की इच्छुक महिलाओं का सपोर्ट करने के लिए बनाया गया है, कॉलेज के संसाधन भागीदार और सह-रचनाकारों के रूप में काम करेंगे। ‘शी लीड्स’ एक गैर-सरकारी संगठन (एनजीओ) स्त्री शक्ति, द पैरेलल फोर्स और इंडियन स्कूल ऑफ डेमोक्रेसी (आईएसडी) के साथ शेवनिंग एलुमनी प्रोजेक्ट फंड (सीएपीएफ) के सहयोग से चलाया जाना वाला एक प्रोजेक्ट है। महिला नेताओं के लिए वर्तमान में स्त्री शक्ति द्वारा संचालित पहले ग्रुप के लिए ट्रेनिंग का आयोजन 8 मार्च, 2021 को नई दिल्ली के इंडिया इंटरनेशनल सेंटर में होगा।

कोर्स को अंतिम रूप दिया जा रहा है- बिजयालक्ष्मी
बिजयालक्ष्मी ने कहा कि हम किसी भी स्तर पर राजनीति में आने की इच्छुक युवा महिलाओं को सभी आवश्यक ट्रेनिंग देने की योजना बना रहे हैं। हालांकि, यह प्रोग्राम व्यक्तिगत कक्षाओं के लिए डिजाइन किया गया था, लेकिन अब हम इसे मिश्रित (ऑनलाइन और साथ ही व्यक्ति) मोड में पेश करने की योजना बना रहे हैं ताकि विश्वविद्यालय की विद्या विस्तार योजना के तहत राजस्थान में हमारे द्वारा अपनाए गए कॉलेज भी इस कोर्स का लाभ उठा सकें। बिजयालक्ष्मी ने कहा कि कॉलेज वर्तमान में विशेषज्ञों के साथ कोर्स को अंतिम रूप देने के लिए काम कर रहा है और 8 मार्च से शुरू होने वाली बैठकों की एक श्रृंखला में इस पर विचार-विमर्श किया जाएगा।

मिरांडा हाउस के पहल को वृंदा करात ने स्वागत किया
गौरतलब है कि भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) के नेता और मिरांडा हाउस की पूर्व छात्रा वृंदा करात, जिन्होंने साल 1966 में कॉलेज से स्नातक किया था, उन्होंने इस कदम का स्वागत किया है। वृंदा करात ने कहा कि मुझे यह जानकर खुशी हुई कि मेरा पुराना कॉलेज इस तरह की पहल कर रहा है, महिलाओं के अधिकारों का पूरा पहलु निर्णय लेने वाले निकायों में महिलाओं के अधिकारों से जुड़ा हुआ है। करात ने कहा कि भारत में विभिन्न स्तरों पर महिलाओं ने राजनीतिक प्रक्रियाओं में महिलाओं की भागीदारी की प्रासंगिकता दिखाने के लिए महत्वपूर्ण पहल की है और यह अच्छा है कि हमारी छात्राओं को खासकर पंचायतों में महिलाओं के अनुभव का अध्ययन करना चाहिए।

Load More Related Articles
Load More By RN Prasad
Load More In दिल्ली

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा- CBSE रिजल्ट से असंतुष्ट छात्रों को अगस्त में मिलेगा परीक्षा देने का मौका

केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने आज सीबीएसई की 12वीं बोर्ड परीक्षा परिणाम से …