मोदी ने कहा, कोरोना के खिलाफ लड़ाई जनता लड़ रही है, हमारी पहली प्राथमिकता लोगों की जान बचाना

वैश्विक महामारी कोविड-19 की रोकथाम के लिए 25 मार्च से 3 मई तक 40 दिनों के लिए लागू देशव्यापी लॉकडाउन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि भारत की कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ लड़ाई सही मायने में पीपल ड्रिवेन है, भारत में कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ाई जनता लड़ रही है, आप लड़ रहे हैं, जनता के साथ मिल कर शासन, प्रशासन लड़ रहा है।

भारत में कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ाई जनता लड़ रही है- मोदी

वैश्विक महामारी कोविड-19 की रोकथाम के लिए 25 मार्च से 3 मई तक 40 दिनों के लिए लागू देशव्यापी लॉकडाउन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज अपने मन ती बात कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि भारत की कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ लड़ाई सही मायने में पीपल ड्रिवेन है, भारत में कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ाई जनता लड़ रही है, आप लड़ रहे हैं, जनता के साथ मिल कर शासन, प्रशासन लड़ रहा है।

मोदी ने कहा, हर कोई अपने सामर्थ्य के हिसाब से इस लड़ाई को लड़ रहे हैं

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि हर कोई अपने सामर्थ्य के हिसाब से इस लड़ाई को लड़ रहा है, कोई अपनी पूरी पेंशन, पुरस्कार राशि को पीएम केयर्स में जमा करा रहा है, तो कोई खेत की सारी सब्जियां दान दे रहा है, तो कोई मास्क बना रहा है, तो कहीं मजदूर भाई-बहन क्वारंटाइन में स्कूल की रंगाई-पुताई कर रहे हैं। मोदी ने कहा कि हमारे किसान भाई-बहन को ही देखिये, वो इस कोरोना महामारी के बीच अपने खेतों में दिन-रात मेहनत कर रहे हैं तथा इस बात की भी चिंता कर रहे हैं कि देश में कोई भी लोग भूखा ना सोये।

हमारी पहली प्राथमिकता लोगों की जान बचाना- मोदी

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि हम भाग्यशाली हैं कि आज पूरा देश, देश का हर नागरिक इस कोरोना लड़ाई का सिपाही है तथा लड़ाई का नेतृत्व कर रहा है, आज पूरा देश एक लक्ष्य, एक दिशा के साथ आगे बढ़ रहा है, हमारी पहली प्राथमिकता लोगों की जान बचाना है। उन्होंने कहा कि ताली, थाली, घंटी, दीया, मोमबत्ती इन सारी चीजों ने जिन भावनाओं को जन्म दिया, जिस जज्बे से देशवासियों ने कुछ-न-कुछ करने की ठान ली, हर किसी को इन बातों ने प्रेरित किया है।

हम सबको एक मन, एक मजबूत धागे से पिरो दिया है- मोदी  

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि दूसरों की मदद के लिए अपने भीतर ह्रदय के किसी कोने में जो यह उमड़ता-घुमड़ता भाव है, वही कोरोना के खिलाफ भारत की इस लड़ाई को ताकत दे रहा है, चाहे वह करोड़ों लोगों का गैस सब्सिडी छोड़ना हो, या लाखों वरिष्ठ नागरिकों द्वारा रेलवे का सब्सिडी  छोड़ना हो, या स्वच्छ भारत अभियान का नेतृत्व लेना हो, या टॉलेट बनाने हो ऐसी अनगिनत बातें हैं, इन सारी बातों से पता चलता है कि हम सबको एक मन, एक मजबूत धागे से पिरो दिया है।

हर मुश्किल हालात, हर लड़ाई, कुछ न कुछ सबक देती है

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि जब देश एक टीम बन करके काम करता है, तब क्या कुछ होता है, यह हम अनुभव कर रहे हैं, आज केंद्र सरकार हो, राज्य सरकार हो, या इनका हर विभाग तथा हर संस्थान राहत कार्य के लिए मिल-जुल करके पूरी स्पीड में काम रहे हैं। उन्होंने कहा कि हर मुश्किल हालात, हर लड़ाई, कुछ न कुछ सबक देती है, कुछ न कुछ सिखा करके जाती है, सीख देती है। मोदी ने कहा कि सब देशवासियों ने इस महामारी के खिलाफ लड़ाई में जो संकल्प शक्ति दिखाई है, उससे भारत में एक नए बदलाव की शुरुआत भी हुई है।

भारत में कोरोना पॉजिटिव केस 26,400 के पार, मरने वालों की संख्या 826 पहुंची

गौरतलब है कि अब तक भारत में कोरोना वायरस पॉजिटिव केसों की संख्या करीब 26,400 से ज्यादा हो चुकी है, कोरोना से ठीक होने वालों की संख्या 6005 हो गई है, जबकि कोरोना से मरने वालों की संख्या 826 हो चुकी है। अब तक पूरे विश्व में कोरोना पॉजिटिव केसों की कुल संख्या 29 लाख 23 हजार को पार कर चुकी है तथा इससे मरने वालों की संख्या 2 लाख, 3 हजार को पार कर चुकी है। विश्व में सबसे ज्यादा कोरोना पॉजिटिव केसों की कुल संख्या अमेरिका में करीब 9 लाख 61 हजार पहुंच चुकी है, जबकि इससे मरने वालों की संख्या यहां करीब 54,200 हो चुकी  है।

Load More Related Articles
Load More By RN Prasad
Load More In देश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

केएस भगवान का आपत्तिजनक बयान, कहा- ‘भगवान राम हर दोपहर अपनी पत्नी सीता के साथ बैठकर शराब पीते थे’

आजकल देश में खुद को सुर्खियों में बने रखने के लिए कइयों ने किसी धर्म, भगवान, राजनेता या अभ…