दिल्ली पुलिस के हत्थे चढ़ा एक लाख का इनामी बदमाश रिषी…जानिए कौन है ?

दिल्ली पुलिस को एक बड़ी कामयाबी मिली है। दिल्ली के द्वारका जिला पुलिस के स्पेशल स्टाफ ने एक लाख रुपए के इनामी बदमाश रिषी राज को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है। रिषी राज पर दिल्ली व हरियाणा में हत्या के प्रयास, लूटपाट, रंगदारी मांगने व अवैध हथियार रखने के 32 मामले दर्ज हैं।

इनामी बदमाश रिषी राज गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस को एक बड़ी कामयाबी मिली है। दिल्ली के द्वारका जिला पुलिस के स्पेशल स्टाफ ने एक लाख रुपए के इनामी बदमाश रिषी राज को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है। रिषी राज पर दिल्ली व हरियाणा में हत्या के प्रयास, लूटपाट, रंगदारी मांगने व अवैध हथियार रखने के 32 मामले दर्ज हैं, साथ ही रिषी राज को अवैध हथियार की आपूर्ति करने वाला लव तोमर भी पुलिस के हत्थे चढ़ गया है। लव तोमर पर उत्तर प्रदेश की पुलिस ने 25 हजार रुपए का ईनाम घोषित कर रखा था, इस पर हत्या, हत्या के प्रयास सहित अन्य वारदातों के आठ मामले बड़ौत में दर्ज हैं।

3 पिस्टल व 10 जिंदा कारतूस बरामद

इन दोनों के पास से 3 पिस्टल व 10 जिंदा कारतूस बरामद हुए हैं। रिषी राज की तलाश दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच व स्पेशल सेल भी कर रही थी। द्वारका जिला पुलिस उपायुक्त एंटो अल्फोंस ने बताया कि एसीपी ऑपरेशन जोगिंदर सिंह जून के मार्गदर्शन व स्पेशल स्टाफ के इंस्पेक्टर नवीन कुमार के नेतृत्व में एक टीम बनाई गई, जो इलाके में अपराध रोकने की दिशा में कदम उठा रही है। टीम में एसआई रंजीव त्यागी, बिजेंद्र, एएसआई उमेश सहित कई अन्य पुलिसकर्मी शामिल हैं। शुक्रवार को टीम को जानकारी मिली की नजफगढ़ के सुरखपुर रोड पर रिषी अपने साथी लव के साथ आनेवाला है, इसके बाद टीम के सदस्यों की तैनाती सुरखपुर रोड पर कर दी गई, जैसे ही ये दोनों बदमाश इलाके में पहुंचे पुलिसकर्मियों ने दबोच लिया।

रिषी गलत संगत में आकर बना अपराधी

दिल्ली पुलिस के छानबीन के दौरान पता चला कि रिषी राज गलत संगत में आकर वारदात को अंजाम देने लगा था, वर्ष 2019 में भोंडसी जेल में उसकी मुलाकात नरेश सेट्ठी से हुई, दोनों ने तय किया की नजफगढ़ इलाके के प्रॉपर्टी डीलर व आभूषण विक्रेताओं को निशाना बनाकर उनसे रंगदारी वसूलेंगे। इस काम में नरेश ने सचिन उर्फ भांजा व संदीप उर्फ काना को भी रिषी राज के साथ वारदात को अंजाम देने की जिम्मेदारी दी, साथ ही आभूषण विक्रेता व प्रॉपर्टी डीलर को धमकाने के लिए इन तीनों ने मंजीत, हरीश, परविंदर, ब्रजेश, विकास, अतुल त्यागी, अंकित को अपने गिरोह में शामिल किया, इलाके के प्रॉपर्टी डीलर व आभूषण विक्रेताओं की लिस्ट तैयार की गई।

प्रॉपर्टी डीलर व ज्वेलर्स को देता था धमकी

दिल्ली पुलिस ने बताया कि के बदमाश तय करते थे कि किसको धमकी देनी है, 23 जून को गिरोह के सदस्यों ने नजफगढ़ इलाके में 2 आभूषण विक्रेताओं व बिंदापुर इलाके में एक प्रॉपर्टी डीलर के कार्यालय पर ताबड़तोड़ फायरिंग की, इसके बाद 1 जुलाई को स्पेशल स्टाफ को जानकारी मिली की ये बदमाश नजफगढ़ इलाके में आने वाले हैं। बदमाशों ने आते ही पुलिसकर्मियों पर गोली चलानी शुरू कर दी थी, पुलिस ने जवाबी कार्रवाई करते हुए परविंदर, ब्रजेश व विकास को गिरफ्तार करने में कामयाबी पाई, लेकिन रिषी राज मौके से फरार हो गया था। उधर, लव तोमर पर उत्तर प्रदेश के बड़ौत में एक महिला की हत्या करने का आरोप है, उसे बड़ौत पुलिस पिछले काफी समय से खोज रही थी।

Load More Related Articles
Load More By RN Prasad
Load More In नोएडा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

ग्रीन हाइड्रोजन के साथ गुजरात कर रहा है भविष्य की तैयारी: गुजरात सरकार नई नीति जारी करेगी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेशनल ग्रीन हाइड्रोजन मिशन को लेकर गुजरात सरकार पूरी तैयारी क…