Bihar: CM नीतीश कुमार के सुशासन की खुली पोल, फरियादियों ने जनता दरबार में लगाए गंभीर आरोप…जानिए

बिहार में सुशासन का क्या हाल है, इसकी पोल बिहार के कल मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के जनता दरबार में फरियादियों ने खोली। जनता दरबार में महिलाओं ने पुलिस पर कई संगीन आरोप लगाए, महिलाओं ने कई दारोगा और डीएसपी पर यौन शोषण का आरोप लगाया।

जनता दरबार में फरियादियों ने खोली सुशासन की पोल
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के जनता दरबार में कल यानि 6 सितंबर को फरियादियों ने नीतीश के समक्ष ही बिहार में सुशासन की पोल खोल कर रख दी। जनता दरबार कार्यक्रम में महिलाओं ने कई दारोगा और डीएसपी पर यौन शोषण का आरोप लगाया, इतना ही नहीं एक फरियादी ने तो मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से से कहा कि डीएसपी यौन शोषण मामले में वह बिहार के डीजीपी से मिलने गई तो उन्होंने कहा कि लड़कियां पहले अपनी अदाओं से लोगों को फंसाती हैं और बाद में शिकायत करती हैं। हद तो तब हो गई जब नीतीश कुमार ने उस लड़की को डीजीपी के पास ही फरियाद लेकर वापस भेज दिया, शायद यह पहला मामला होगा जिसके खिलाफ शिकायत की गई हो वही शिकायत सुने।

डीएसपी अमन कुमार के ऊपर यौन शोषण का आरोप
एसटीएफ के डीएसपी अमन कुमार के ऊपर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली युवती ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सामने कहा कि वह बीते शुक्रवार (3 सितंबर) को बिहार के डीजीपी एसके सिंघल के सामने भी अपनी फरियाद लेकर पहुंची थी, लेकिन डीजीपी ने तो हद ही कर डाली, उन्होंने कहा कि लड़कियां पहले अपनी अदाओं से लड़कों को फंसाती हैं और फिर बाद में उनके पर आरोप लगाती हैं।

थानेदार आरोपी को बचाने में लगे हुए हैं- पीड़ित महिला
एक महिला मुखिया ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से शिकायत की कि उनके पति की हत्या कर दी गई है, शिकायत करने के बाद भी थानेदार आरोपी को बचाने में लगे हुए हैं, अभियुक्त की गिरफ्तारी भी हुई और 17 दिनों में जमानत मिल गई, अब वह आरोपी लगातार धमकी दे रहा है। इस पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव एवं डीजीपी को इस मामले में करवाई करने का निर्देश दिया।

गौतम ने SP और थाना प्रभारी के खिलाफ शिकायत की
सिवान के गौतम यादव ने पुलिस अधीक्षक और थाना प्रभारी के खिलाफ शिकायत करते हुए कहा कि हमारे द्वारा शराब बिक्रेताओं के खिलाफ की गई लिखित सूचना को व्हाट्सएप पर इन लोगों ने सार्वजनिक कर दिया, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस मामले का संज्ञान लेते हुए संबंधित विभाग को शीघ्र कार्रवाई करने का आदेश दिया।

पीड़ित महिला का जदयू विधायक रिंकू सिंह पर आरोप
पश्चिमी चंपारण जिले के वाल्मीकि नगर से आई पीड़ित महिला ने जदयू विधायक रिंकू सिंह पर आरोप लगाते हुए कहा कि उनके पति की हत्या के मामले में स्थानीय विधायक रिंकू सिंह को आरोपित किया गया था, लेकिन पुलिस ने अब तक कोई कार्रवाई नहीं की, इस शिकायत के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पीड़ित महिला को डीजीपी के पास भेज कर जांच करने को कहा। जनता दरबार में कल मुख्यमंत्री कार्यक्रम में 195 आवेदकों के मामलों की सुनवाई की गई और अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिया गया।

Load More Related Articles
Load More By RN Prasad
Load More In देश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

महापंचायत में किसान मोर्चा ने किया ऐलान, अब 27 सितंबर को होगा भारत बंद

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में आज किसान महापंचायत का आयोजन किया गया, किसानों की इस महापंचा…