पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह का दिल्ली के AIIMS में निधन

पूर्व केंद्रीय मंत्री व राष्ट्रीय जनता दल के वरिष्ठ नेता रघुवंश प्रसाद सिंह का आज यानि 13 सितंबर को नई दिल्ली के एम्स में निधन हो गया। वह 74 वर्ष के थे। उन्हें आईसीयू में वेंटिलेटर पर रखा गया था।

रघुवंश सिंह लंबे समय से पार्टी से नाराज थे
रघुवंश प्रसाद सिंह कोरोना से संक्रमित पाए गए थे, हालांकि बाद में वह ठीक भी हो गए थे। राष्ट्रीय जनता दल यानि आरजेडी के कद्दावर नेता रघुवंश प्रसाद सिंह लंबे समय से पार्टी से नाराज चल रहे थे। हाल ही में उन्होंने आरजेडी से इस्तीफा देने का ऐलान किया था। लालू यादव को लिखे अपने चिट्ठी में रघुवंश प्रसाद सिंह ने लिखा था कि मैं जननायक कर्पूरी ठाकुर की मृत्यु के बाद 32 सालों तक आपके पीछे खड़ा रहा, लेकिन अब नहीं, इसके साथ ही उन्होंने लिखा कि पार्टी के नेताओं, कार्यकर्ताओं और आमजन ने बड़ा स्नेह दिया, मुझे क्षमा करें। लेकिन लालू प्रसाद ने रघुवंश सिंह का इस्तीफा स्वीकार नहीं किया था।

रघुवंश सिंह लालू प्रसाद के करीबी माने जाते थे
रघुवंश प्रसाद सिंह लालू प्रसाद यादव के करीबी माने जाते थे। रघुवंश सिंह के पार्टी से इस्तीफा देने का ऐलान करने के बाद आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव ने उन्हें मनाने की कोशिश की थी और चिट्ठी भी लिखी थी, अपनी चिट्ठी में लालू यादव ने कहा कि जब आप ठीक हो जाएंगे तो हम लोग बात करेंगे, आप कहीं नहीं जा रहे हैं। लालू यादव ने लिखा था कि आपके द्वारा कथित तौर पर लिखी एक चिट्ठी मीडिया में चलाई जा रही है, मुझे तो विश्वास ही नहीं होता, चार दशकों में हमने हर राजनीतिक, सामाजिक और यहां तक कि पारिवारिक मामलों में मिल बैठकर ही विचार किया है, आप जल्द स्वस्थ हों, फिर बैठकर बात करेंगे, आप कहीं नहीं जा रहे है, समझ लीजिए।

रघुवंश सिंह के निधन पर पीएम मोदी ने शोक जताया
रघुवंश सिंह के निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शोक व्यक्त किया है। रघुवंश सिंह के निधन पर दुख जताते हुए प्रधानमंत्री नरेंद मोदी ने कहा कि रघुवंश प्रसाद सिंह अब हमारे बीच नहीं रहे, मैं उनको नमन करता हूं, उनके निधन ने बिहार के साथ-साथ देश के राजनीतिक क्षेत्र में एक शून्य छोड़ दिया है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि जमीन से जुड़ा व्यक्तित्व, गरीबी को समझने वाला व्यक्तित्व, पूरा जीवन बिहार के संघर्ष में बिताया, रघुवंश जी के भीतर अपने क्षेत्र के विकास की चिंता थी, उन्होंने बिहार के मुख्यमंत्री जी को अपनी एक विकास के कामों की सूची भेज दी, बिहार के लोगों की, बिहार के विकास की चिंता उस चिट्ठी में प्रकट होती है।

नि:शब्द हूं, दुःखी हूं, बहुत याद आएंगे- लालू
रघुवंश सिंह के निधन पर राजद के सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने शोक व्यक्त किया। लालू प्रसाद ने कहा कि ‘प्रिय रघुवंश बाबू, ये आपने क्या किया, मैनें परसों ही आपसे कहा था आप कहीं नहीं जा रहे है, लेकिन आप इतनी दूर चले गए। नि:शब्द हूं। दुःखी हूं। बहुत याद आएंगे।’ रघुवंश प्रसाद का जन्म का बिहार के वैशाली जिले शाहपुर में 6 जून, 1946 को हुआ था। उन्होंने बिहार विश्वविद्यालय से गणित में डॉक्टरेट की उपाधि प्राप्त की थी। अपनी युवावस्था में उन्होंने लोकनायक जयप्रकाश नारायण के नेतृत्व में हुए आंदोलनों में भाग लिया था।

Load More Related Articles
Load More By RN Prasad
Load More In देश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

केएस भगवान का आपत्तिजनक बयान, कहा- ‘भगवान राम हर दोपहर अपनी पत्नी सीता के साथ बैठकर शराब पीते थे’

आजकल देश में खुद को सुर्खियों में बने रखने के लिए कइयों ने किसी धर्म, भगवान, राजनेता या अभ…