कोरोना के खिलाफ लड़ाई में मोदी दुनिया में सबसे आगे निकले, लोकप्रियता के मामले में शीर्ष पर

वैश्विक महामारी कोविड-19 की रोकथाम के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 25 मार्च से 3 मई तक 40 दिनों के लिए लागू देशव्यापी लॉकडाउन के दौरान भारत के लिए तथा साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए एक अच्छी खबर है। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कोरोना वायरस महासंकट के वक्त लोकप्रियता के मामले में दुनिया के सभी नेताओं को पछाड़ते हुए पहले पायदान पर पहुंच गए हैं।

लोकप्रियता के मामले में मोदी दुनिया में पहले पायदान पर

वैश्विक महामारी कोविड-19 की रोकथाम के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 25 मार्च से 3 मई तक 40 दिनों के लिए लागू देशव्यापी लॉकडाउन के दौरान अब भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कोरोना वायरस महासंकट के वक्त लोकप्रियता के मामले में दुनिया के सभी नेताओं को पछाड़ते हुए पहले पायदान पर पहुंच गए हैं। कोरोना महासंकट के समय प्रधानमंत्री मोदी का दुनिया का सबसे लोकप्रिय नेता बनना भारत के लिए गौरव की बात है।

प्रधानमंत्री मोदी की लोकप्रियता 68 प्रतिशत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को मॉर्निंग कंसल्टिंग पॉलिटिकल इंटेलिजेंस के सर्वे के  मुताबिक, दुनिया के सबसे महान नेताओं के रूप में स्वीकार किया गया है। अमेरिका की ग्लोबल डेटा इंटेलिजेंस कंपनी मॉर्निंग कंसल्टिंग पॉलिटिकल इंटेलिजेंस के मुताबिक, 14 अप्रैल, 2020 को प्रधानमंत्री मोदी की लोकप्रियता 68 प्रतिशत बताई गई है, जो कि वर्ष 2020 की शुरुआत में 62 प्रतिशत थी। इस सर्वे में यह स्वीकार किया गया कि भारत ने दुनिया के अन्य विकसित तथा विकासशील देशों की तुलना में कोरोना महासंकट के प्रकोप से प्रभावी रूप से निपटा है।

मेक्सिको के राष्ट्रपति को लोकप्रियता में दूसरा सथान

मॉर्निंग कंसल्टिंग पॉलिटिकल इंटेलिजेंस द्वारा 10 देशों के बीच किए गए इस सर्वे में दुनिया में लोकप्रियता के मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को शीर्ष स्थान दिया गया है, जबकि मेक्सिको के राष्ट्रपति आंद्रे मैन्युअल लोपेज ओब्राडार को दूसरा सथान दिया गया है। इस सर्वे में दुनिया में लोकप्रियता के मामले में जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे को 10वां स्थान दिया गया है। ध्यान रहे कि गैलप के ताजा सर्वे के मुताबिक, मध्य मार्च में अमेरिका में लगाए गए लॉकडाउन के समय अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की लोकप्रियता 49 प्रतिशत थी, जो अब गिरकर अब 43 प्रतिशत हो गई है।

कोरोना संकट के वक्त मोदी की स्वीकार्यता दुनिया में बढ़ी

ध्यान रहे कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 24 मार्च को 25 मार्च से 14 अप्रैल तक 21 दिनों के लिए देशव्यापी लॉकडाउन की घोषणा की थी, जिसके बाद उन्होंने 14 अप्रैल को देशव्यापी लॉकडाउन को 19 दिनों के लिए और बढ़ाकर 3 मई, 2020 तक दिया था। इसके अलावा प्रधानमंत्री मोदी द्वारा वैश्विक नेताओं को महामारी से निपटने में एकजुट करने की कोशिश, सार्क देशों की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक हो या जी-20 देशों की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक की बात हो, इन सभी वजहों ने ही प्रधानमंत्री मोदी की लोकप्रियता में इजाफा किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जरूरी दवाइयों के निर्यात से प्रतिबंध हटा कर दूसरे देशों की मदद की पहल की, इसके चलते भी उनकी की स्वीकार्यता दुनिया भर में बढ़ी है।

भारत में कोरोना पॉजिटिव केस 20,300 के पार, मरने वालों की संख्या 652 पहुंची

गौरतलब है कि अब तक भारत में कोरोना वायरस पॉजिटिव केसों की कुल संख्या 20,300 को पार कर चुकी है, कोरोना से ठीक होने वालों की संख्या 4006 हो गई है, जबकि कोरोना से मरने वालों की संख्या 652 हो चुकी है। अब तक पूरे विश्व में कोरोना पॉजिटिव केसों की कुल संख्या 25 लाख, 72 हजार को पार कर चुकी है तथा इससे मरने वालों की संख्या करीब 1 लाख, 78 हजार पहुंच चुकी है। विश्व में सबसे ज्यादा कोरोना पॉजिटिव केसों की कुल संख्या अमेरिका में करीब 8 लाख 19 हजार पहुंच चुकी है, जबकि इससे मरने वालों की संख्या यहां करीब 45,300 हो चुकी है।

Load More Related Articles
Load More By RN Prasad
Load More In देश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

हेमंत सोरेन ने ली मुख्यमंत्री पद की शपथ, तीसरी बार बने झारखंड के मुख्यमंत्री

झारखंड मुक्ति मोर्चा के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन ने एक बार फिर आज गुरुवार को (4 जुलाई…