Bihar: उपेंद्र कुशवाहा ने किया खुलासा, कहा- BJP के सम्पर्क में हैं JDU के बड़े नेता

बिहार की राजनीति में जेडीयू (जनता दल यूनाइटेड) संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा की इन दिनों खूब चर्चा हो रही है। उपेंद्र कुशवाहा ने आज रविवार को मीडिया के सामने कई मुद्दों पर अपनी बात रखी।

JDU के बड़े नेता BJP के सम्पर्क में- उपेंद्र
जेडीयू संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा को लेकर इन दिनों कई तरह की अटकलें लगाई जा रही हैं। जेडीयू में उपेंद्र कुशवाहा की नाराजगी की भी बात कही जा रही है, वहीं इस बीच उपेंद्र कुशवाहा ने आज 22 जनवरी 2023 को मीडिया से बातचीत की। इस दौरान उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि भाजपा नेताओं से मुलाकात की बात को तूल दिया जा रहा है, जेडीयू में जो जितना बड़ा नेता है वो उतना ही भाजपा के सम्पर्क में है।

बात का बतंगड़ बनाया जा रहा है- उपेंद्र
दिल्ली में इलाज के दौरान भाजपा के तमाम नेताओं ने उपेंद्र कुशवाहा से मुलाकात की थी इसको लेकर यह कयास लग रहे थे कि उपेंद्र कुशवाहा भाजपा में शामिल होने वाले हैं, इसको लेकर उपेंद्र कुशवाहा ने अपनी सफाई देते हुए कहा कि भाजपा के किसी नेता से मुलाकात का मतलब हम भाजपा के संपर्क में हैं, जिस संपर्क की बात कही जा रही है ऐसे में तो भारतीय जनता पार्टी के नेताओं से हमारी पार्टी के जो जितना बड़ा नेता हैं वो उतना ही ज्यादा संपर्क में हैं, अब उपेंद्र कुशवाहा के साथ एक तस्वीर के आ गई तो इसको बात का बतंगड़ बनाया जा रहा है, इसका कोई मतलब नहीं है।

राजनीतिक अर्थ निकालना उचित नहीं- उपेंद्र
उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि अस्पताल में अगर कोई व्यक्ति मिल रहा हो तो इसका राजनीतिक अर्थ निकालना कहां तक उचित है, हमको इसकी जानकारी रास्ते में मिली, एक व्यक्ति जो अस्पताल में 100 फीसदी जिंदा भर्ती है और उसका पोस्टमार्टम बिहार में लोग कर रहे हैं, चिकित्सा विज्ञान की यह सबसे नवीनतम तकनीक है। वहीं, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि उपेंद्र कुशवाहा 2-3 बार पहले भी बाहर गए हैं और आए हैं इसको लेकर उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि आज इसका क्या मतलब है, हमारी पार्टी ही 2-3 बार भारतीय जनता पार्टी के संपर्क में गई और भाजपा के संपर्क से हट गई, पार्टी अपनी रणनीति के हिसाब से जो आवश्यक होता है वह करती है।

जेडीयू कमजोर हो रही है- उपेंद्र
नीतीश कुमार के फैसला लेने वाले बयान पर उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि किस बात का फैसला लेना है, यह तय करना मेरे अलावा कौन कर सकता है, हमारी चिंता का विषय है कि जेडीयू कमजोर हो रही है इसकी मजबूती के लिए हम लगातार प्रयास करें और हमारा प्रयास लगातार जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार से बात करना होगा तो उसमें माध्यम की जरूरत मुझे नहीं है, पार्टी की कमजोरी के खिलाफ कोई व्यक्ति मजबूती से बोल रहा है तो उसका अर्थ का अनर्थ निकाला जा रहा है।

Load More Related Articles
Load More By RN Prasad
Load More In देश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

PM मोदी बिहार से लोकसभा चुनाव अभियान का आगाज करेंगे, पश्चिम चंपारण के बेतिया में 13 जनवरी को पहली रैली करेंगे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 2024 लोकसभा चुनाव अभियान की शुरुआत बिहार से कर सकते हैं। न्यूज ए…